जन कल्याण ट्रस्ट

सुकन्या विवाह विदाई एवं जन कल्याण योजना

बिहार सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त

निबंधन सं 2534 / 2482 / 14 / 2020

Who We Are

सुकन्या विवाह विदाई एवं जन कल्याण योजना ( संस्था )

सुकन्या विवाह विदाई जन विवाह कल्याण योजना ट्रस्ट में आप लोगों का स्वागत है , हमारी ट्रस्ट बिहार सरकार से पंजिकृत है । सुकन्या विवाह योजना उन परिवारों के लिए है। ऐसे परिवार कि बेटी की शादी के कन्या विवाह विदाई प्रोत्साहन ट्रस्ट की तरफ से आर्थिक मदद की जाती है ।

क्या है कन्या विवाह योजना के लाभ?

कन्या विवाह योजना उन परिवारों के लिए है, जो गरीब है ऐसे परिवार की बेटी की शादी में सरकार की तरफ से आर्थिक मदद दी जाती है. गरीब परिवार की बेटी की शादी में सरकार 5,000 रुपये की एकमुश्त रकम देती है. यह रकम लड़की के नाम चेक या डिमांड ड्राफ्ट के जरिए दी जाती है. कन्या विवाह योजना को साल 2012 में लोक सेवा के अधिकार अधिनियम में भी शामिल कर लिया गया है.

बिहार मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना क्या है?

मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना उन परिवारों के लिए है, जो गरीब  हैं. ऐसे परिवार की बेटी की शादी में सरकार की तरफ से आर्थिक मदद दी जाती है|

बिहार देश में सामाजिक और आर्थिक रूप से सबसे ज्यादा पिछड़े राज्यों में शामिल हैं. राज्य में लड़कियों की शादी कम उम्र में कर दी जाती है. इससे उनकी शिक्षा भी पूरी नहीं हो पाती है. कम उम्र में शादी के कई खराब नतीजे होते हैं. इस समस्या को दूर करने के लिए बिहार सरकार ने खास स्कीम शुरू की है. इसका नाम ‘मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना’ है.

Gallery

क्या हैं कन्या विवाह योजना में लाभ पाने की शर्तें?

01.

लड़की की उम्र 18 साल या इससे ज्यादा होनी चाहिए|

02.

कन्याओं का रजिस्ट्रेशन कराना जरूरी है |

03.

लड़की के माता-पिता का निवास प्रमाणपत्र बिहार का होना चाहिए|

04.

शादी के वक्त दूल्हे की उम्र 21 साल से कम नहीं होनी चाहिए|

क्या है कन्या विवाह योजना का मकसद?

मुख्यमंत्री कन्या विवाह योजना करीब एक दशक से राज्य में चल रही है. गरीब परिवारों को कन्या विवाह योजना से काफी लाभ पहुंचा है. कन्या विवाह योजना के मुख्य रूप से दो मकसद हैं. पहला, नाबालिग लड़कियों की शादी पर रोक लगाना. दूसरा, समाज में दहेज प्रथा को खत्म करना. कन्या विवाह योजना बिहार सरकार के सामाजिक कल्याण विभाग द्वारा चलाई जाती है.